अजब-गजब

मेष राशि शादी के उपाय, मेष राशि का विवाह योग कब है?, मेष राशि की शादी कब होगी, मेष राशि विवाह योग, मेष राशि का प्रेम, मेष राशि लव लाइफ, मेष राशि का प्यार कब मिलेगा?, Mesh Rashi Shadi Ke Upay, Mesh Rashi Ka Vivah Yog Kab Hai?, Mesh Rashi Vivah Yog, Mesh Rashi Ka Prem, Mesh Rashi Love Life, Mesh Rashi Ka Pyaar Kab Milega?, Mesh Rashi Ki Shadi Kab Hogi


मेष राशि शादी के उपाय, मेष राशि का विवाह योग कब है?, मेष राशि की शादी कब होगी, मेष राशि विवाह योग, मेष राशि का प्रेम, मेष राशि लव लाइफ, मेष राशि का प्यार कब मिलेगा?, Mesh Rashi Shadi Ke Upay, Mesh Rashi Ka Vivah Yog Kab Hai?, Mesh Rashi Vivah Yog, Mesh Rashi Ka Prem, Mesh Rashi Love Life, Mesh Rashi Ka Pyaar Kab Milega?, Mesh Rashi Ki Shadi Kab Hogi

मेष राशि लव लाइफ और विवाह योग – परिचय

हर लड़के और लड़की के जीवन में प्रेम और विवाह का खास महत्व होता है. हर कोई अपने विवाह के लिए उपयुक्त जीवनसाथी की चाहत रखता है. किसी भी परफेक्ट मैच को ढूंढने के लिए पार्टनर की उपयुक्त राशि की जानकारी होनी चाहिए. राशि के जरिए हम किसी भी व्यक्ति की पर्सनालिटी, पसंद नापसंद आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. कुछ राशियों का मेल बहुत ही बढ़िया होता है. उनकी लव लाइफ व वैवाहिक जीवन सुख व शांति से भरा होता है. वहीं अगर राशियों का मेल सही तरह से नहीं होता है तो प्रेम व दाम्पत्य जीवन में तनाव उत्पन्न होने की संभावना रहती है. राशि चक्र की पहली राशि मेष राशि है. मेष राशि के जातक महत्वाकांक्षी, दृढ़निश्चयी होते हैं. वो जोखिम लेने वाले होते हैं और हर काम में जल्दबाजी करते हैं. लेकिन हर चीज का सही समय होता है. इसलिए यहां जानिए कि मेष राशि का प्यार कब मिलेगा, मेष राशि लव लाइफ कैसी रहेगी, विवाह कब और किस राशि के साथ करना सही रहेगा है,  मेष राशि की कुंण्डली में विवाह योग कब बन रहा है? और अगर शादी में विलंब हो रहा है तो उसके लिए मेष राशि वाले क्या उपाय करें? तो चलिए जानते हैं इन सभी सवालों के जवाब यहां पर-

मेष राशि का प्यार कब मिलेगा? Mesh Rashi Ka Pyaar Kab Milega?

प्रेम संबंधों की बात करें तो प्रेम में मेष राशि के जातक स्वयं पहल करते हैं. खुले विचार होने के कारण मेष राशि के जातकों को बंधन में रहना पसंद नहीं होता है. प्रेम और विवाह के मामले में भी ये बड़े खुले विचार के होते हैं. वैसे तो जीवन में प्यार कभी भी मिल सकता है, लेकिन मेष राशि के जातक 25 वर्ष की आयु के आसपास, अपने लाइफ पार्टनर को खोजने व उनसे मिलने की सबसे अधिक संभावना रखते हैं.

मेष राशि का प्रेम, लव लाइफ/ Mesh Rashi Ka Prem, Love Life

मेष राशि का प्रेम, मेष राशि लव लाइफ, Mesh Rashi Ka Prem, Mesh Rashi Love Life
मेष राशि वाले व्यक्ति प्रेमी-स्वभाव के होते है, किन्तु ये जातक उन्हीं लोगों से प्रेम करते हैं, जो उनसे प्रेम करते हों. मेष राशि वालों को जैसा वह चाहते हैं, वैसा प्रेम न मिले तो उनके के मन में अत्यंत दुःख होता है और वे मन ही मन घुटते रहते हैं. मेष राशि वाले प्रेम के अभाव में कर्कश एवं रूखे स्वभाव के बन जाते हैं. मेष राशि वाले उन लोगों की ओर अधिक आकर्षित होते हैं जो स्वभाव से नम्र हों. मेष राशि के लोगों को किसी भी राशि के जातक के साथ प्रेम हो सकता है इसलिए यहां जानिए मेष राशि का अन्य राशि के लोगों के साथ संबंध व लव लाइफ कैसी होती है.

मेष और मेष की लव लाइफ

चूंकि मेष का राशि चिन्ह भेड़ है इसलिए इनकी दो सींगे भगवान राम की तरह दृढ़ता का प्रतीक हैं. मेष जातक का अपने ही राशि के व्यक्ति के साथ प्रेम संबंध काफी अच्छे होते हैं. दोनों ही पार्टनर खुद को सर्वोच्च समझते हैं. ये दोनों ही अपने रिश्ते में प्रभुत्व स्थापित करना चाहते हैं. मेष राशि के व्यक्ति की दूसरे मेष राशि वाले पुरुष या स्त्री से खूब पटती है. जब ये दो जातक मिलते हैं तो ये किसी भी अवसर का सबसे बेहतर इस्तेमाल करते हैं. मेष राशि वाले पुरुष का मेष राशि वाली स्त्री के साथ संपर्क नित्य नया होता है, यही कारण है कि इनका आपस में प्रेम संबंध बहुत ही शक्तिशाली होता है.

मेष और वृषभ की लव लाइफ

मेष राशि के लोग वृषभ राशि वाले साथी के विविध दृष्टिकोण में कमी के कारण उनसे थोड़ा परेशान रह सकते हैं. वहीं वृषभ राशि वाले मेष राशि की ओर से दी गई सुरक्षा की सराहना करते हैं और उनकी बेहतर आर्थिक स्थिति से खुश होते हैं. दोनों राशि के जातक रोमेंटिक होते हैं, लेकिन वृषभ राशि के जातकों की अकल्पनाशील प्रवृत्ति व उनका ये प्रेम मेष राशि वालों को कुछ खास पसंद नहीं आता है. वृषभ राशि वाले परिवार के साथ रहना पसंद करते हैं. जबकि मेष राशि वाले इसके विपरीत होते हैं, इसलिए इनके रिश्ते में खट-पट चलती रहती है और इनकी लव लाइफ एवरेज रहती है.

मेष और मिथुन की लव लाइफ

मेष और मिथुन दोनों राशियों के जातकों का मिलन एक अच्छा संबंध माना जाता है. दोनों राशियों के लोगों को आपस में बात करना व अपने अनुभव सांझा करना अच्छा लगता है. मेष राशि वाले चालाक, और बुद्धिमान होते हैं वहीं मिथुन राशि वाले विविधत्तापूर्ण एवं प्रभुत्व वाले होते हैं. अपने अलग अलग स्वभाव के बावजूद भी ये लोग आपस में संतुलन बनाकर चलते हैं. यहीं कारण है कि मेष राशि वालों के लिए मिथुन राशि वाले जातक बेहतर साबित होते हैं.

मेष और कर्क की लव लाइफ

मेष और कर्क दोनों राशि वाले एक-दूसरे से बिल्कुल विपरीत होते हैं. ये लोग महज दोस्त हो सकते हैं लेकिन एक दूसरे के दिल में खास जगह नहीं बना सकते. मेष राशि के जातक बिना सोचे समझे काम कर जाते हैं वही कर्क राशि के लोग किसी भी चीज को करने से पहले बहुत सतर्क रहते हैं. कर्क राशि वाले बहुत संवेदनशील होते हैं जबकि मेष राशि वाले खुलकर बोलते हैं, ये अपने अलग अलग स्वभाव के कारण आपस में मेल नहीं बैठा पाते इसलिए इनकी लव लाइफ कुछ खास नहीं होती.

मेष और सिंह की लव लाइफ

मेष और सिंह राशि के लोग बहुत ही महान शख्सियत वाले होते हैं, लेकिन दोनों के बीच विचारों की भिड़ंत होती है. दोनों ही राशि वाले नेतृत्व करना चाहते हैं. मेष राशि वाले आशावादी और खुले विचारों वाले होते हैं इसलिए इनकी सिंह राशि के साथ काफी अच्छी बनती है. ये दोनों आपस में प्यार भरा और गर्म जोशी वाला संबंध सांझा करते हैं. दोनों राशियों का प्रेम संबंध आपस में बेहतर व सुखी होता है.

मेष और कन्या की लव लाइफ

मेष और कन्या राशि के बीच भावनात्मक रूप से उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता हैं. मेष राशि के लोग बोल्ड, आश्वस्त और सीधी सोच रखने वाले होते हैं. जबकि कन्या राशि के लोग शर्मीले और आत्मविश्वास की कमी वाले होते है. मेष राशि स्वार्थी और प्रफुल्लित होती है, जबकि कन्या राशि वाले ज्यादातर मददगार और व्यावहारिक होते हैं. मेष राशि के व्यक्ति नए विचारों के साथ राजा बनना पसंद करते हैं और कन्या राशि वाले सहायक के रूप में काम करने के लिए तैयार रहते हैं. अपने विपरित स्वभाव के चलते ये एक दूसरे की कमियों को मजबूती देते हैं जिसके कारण इनके बीच का प्रेम संबंध सकारात्मक होता है.

मेष और तुला की लव लाइफ

दोनों के बीच एक त्वरित तालमेल दिखता है. दोनों एक-दूसरे से पूरी तरह विपरीत हैं इसलिए ये एक गुलाम जोड़े की तरह काम करते हैं. इनमें से एक राशि में चीजों की भरमार होती है वहीं दूसरे में उसकी कमी. मेष राशि वाले स्व-केंद्रित, साहसी और आक्रामक होते हैं. जबकि तुला वाले शांत, सद्भाव और मिलनसार होते हैं. मेष राशि वाले हमेशा खुद को एक बॉस की तरह पेश करते हैं जबकि तुला राशि वाले सहकारी होते हैं. दोनों राशि वाले मैत्रीपूर्ण, मज़ेदार और अच्छे मनोरंजनकर्ता होते हैं. दोनों का रिश्ता एक अच्छा और अद्भुत संबंध है, लेकिन सफल लव लाइफ के लिए ये सर्वश्रेष्ठ जोड़ी नहीं है.

मेष और वृश्चिक की लव लाइफ

मेष और वृश्चिक राशि वाले एक साथ अच्छे और सफल प्रेमी जोड़े साबित होते हैं, क्योंकि वे ऊर्जावान, शक्तिशाली, उत्साही और भावुक होते हैं. दोनों रुतबे में पहले स्थान पर होना चाहते हैं. दोनों स्वार्थी और तुरंत प्रतिक्रिया देने वाले होते हैं. वृश्चिक राशि वाले ईष्यालू होते हैं और उनके पास मजबूत तर्क शक्ति होती है. ये भावुक प्रेमी भी हैं, जो उन्हें स्थिर संबंध बनाए रखने में मदद करता है. मेष और वृश्चिक राशि वाले अपने रिश्ते में तालमेल बैठाकर चलते हैं.

मेष और धनु की लव लाइफ

मेष और धनु की लव लाइफ अच्छी रहती है. यह एक परिपूर्ण और महान जोड़ी है क्योंकि उनकी कई बातें एक-दूसरे से मिलती हैं. दोनों आशावादी, उत्साही, सीधी सोच रखने वाले, आत्मविश्वासी, बौद्धिक, सामाजिक और हास्य की अच्छी समझ रखते हैं. ये एक प्रेमी जोड़े से ज्यादा एक अच्छे दोस्त हो सकते हैं. इनके बीच दोस्ती का संबंध कफी गहरा होता है. हां, दोनों के बीच थोड़ी दरार आ सकती है क्योंकि दोनों बेबाक और सीधी सोच रखते हैं, लेकिन ये दोनों ही बिगड़ती स्थिति को संभालना भलीभांति जानते हैं. दोनों में हास्य की भावना अच्छी होती है इसलिए वे एक-दूसरे के साथ को पसंद करते हैं.

मेष और मकर की लव लाइफ

मेष और मकर के बीच प्रेम संबंध में कई समस्याएं हैं. मकर राशि वाले व्यवहारिक, महत्वाकांक्षी, विनोदी, एकाकी ओर धैर्यवान होते हैं. जबकि मेष राशि के जातक साहसिक, आत्मविश्वासवी, ऊर्जावान, और बहुत खुले मन के होते हैं. चूंकि दोनों ही आत्म-केंद्रित, स्वार्थी और प्रभुत्व जमाने वाले होते हैं. इसलिए उनका रिश्ता अक्सर उलझ जाता है और ये संबंध असफल साबित होता है. मकर राशि वाले लोग मेष वाले व्यक्तियों के नई सोच वाले विचार से बिल्कुल प्रभावित नहीं होते हैं.

मेष और कुंभ की लव लाइफ

मेष और कुंभ राशि के बीच संबंध लंबे समय तक चलने वाला नहीं होता है और दोनों ही राशि के लोग कल के भरोसे जीते हैं. दोनों में एक समान विश्वास है. दोनों को प्यार, स्वतंत्रता पसंद होती है. दोनों ही महत्वकांक्षी और ऊर्जावान होते हैं. दोनों राशियों की रुचि एक समान होती है जैसे- दोस्ताना बर्ताव, बहादुर और ज्यादा भावुक न होना इनके एक जैसे गुण हैं. मेष राशि वाले स्वार्थी और त्वरित प्रतिक्रिया देने वाले होते हैं, जबकि कुंभ राशि के लोग अप्रत्याशित होते हैं. दोनों नेतृत्व करना चाहते हैं. ये कुंभ वालों के मूड पर निर्भर करता है कि वे मेष राशि वालों को प्रभुत्व बनाने देते हैं या नहीं. इस कारण इनके प्रेम व वैवाहिक जीवन में मतभेद जैसी बड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती है.

मेष और मीन की लव लाइफ

दोनों राशियों के बीच का रिश्ता उतार-चढ़ाव वाला होता है. मीन राशि के लोग मेष राशि के लोगों की आक्रामकता और गुस्सा बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं. मेष जातक को लगता है कि मीन वाले व्यक्ति बहुत भावुक और संवेदनशील होते हैं. वे उनकी ईमानदारी और निष्ठा का सम्मान करते हैं, लेकिन उनके द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों से नफरत करते हैं. मेष रहस्यमय मीन की गुत्थी को सुलझाना चाहता है, लेकिन वो मीन के भ्रम जाल से जल्दी ही झुंझला जाता है.

मेष राशि का विवाह योग कब है? Mesh Rashi Vivah Yog

मेष राशि का विवाह योग कब है?, मेष राशि विवाह योग, Mesh Rashi Ka Vivah Yog Kab Hai?, Mesh Rashi Vivah Yog
हर किसी के लिए विवाह का एक खास महत्व होता है. जैसे ही कोई लड़की या लड़का विवाह योग्य होता है, परिवार के साथ समाज भी उसके ऊपर विवाह का दबाव बनाने लग जाता है. मगर विवाह कब और किसके साथ करना है, कुंण्डली में विवाह योग कब बन रहा है जैसे प्रश्न आकर सामने खड़े हो जाते हैं. ऐसे में कुंण्डली देखकर राशिनुसार विवाह योग निकाला जाता है. तो चलिए जानते हैं मेष राशि का विवाह योग कब और किस राशि के साथ बन रहा है.
मेष राशि के जातकों में धैर्य की काफी कमी होती है, जिस वजह से वह हर काम काफी हड़बड़ी में करते हैं. ऐसे उनकी ये आदत कई बार उन पर ही काफी भारी भी पड़ जाती है. इस हिसाब से मेष राशि के लोग जब अपने मनचाहे साथी को पा जाते हैं तो विवाह को लेकर जल्दबाजी ना करें. वहीं शास्त्र के अनुसार आपके लिए 25 से 26 साल की आयु में ही जाकर विवाह करना शुभ रहता है. यानी कि 25 साल के बाद मेष राशि के जातकों का विवाह योग बन रहा है, ऐसे में 25 से 26 साल की उम्र में विवाह करना आपके लिए बेहद शुभ है.
राशियों के कुछ प्रकार हैं जैसे अग्नि तत्व, जल तत्व, पृथ्‍वी तत्व, वायु तत्व और आकाश तत्व. मान्यता है कि अग्नि तत्व वालों की अग्नि तत्व वालों से पटती है. इसी तरह के मिलान के आधार पर जाने मेष राशि का किस राशि के साथ बन सकता है विवाह योग और किस राशि के साथ विवाह योग बनने में आती है मुश्किलें-

. मेष राशि का किस राशि के साथ बन सकता है विवाह योग
मेष राशि वालों की सिंह और धनु राशि वालों के साथ विवाह योग बन सकता है क्योंकि यह तीनों राशियां अग्नि तत्व प्रथान होती है. अग्नि तत्व प्रधान अर्थात तीनों ही उग्र और गर्म मिजाज वाले हैं. इनका आपसी तालमेल अन्य किसी राशि की अपेक्षा बेहतर होता है. इसके अलावा मेष राशि वाले जातक की कुंभ राशि से भी जम होती है. अग्नि तत्व वालों की पटरी वायु तत्व वाली राशियों से भी बैठ सकती है क्योंकि वायु तत्व द्विस्वभाव वाली राशियों हैं जो कि जल के साथ भी और अग्नि के साथ भी संबंध बैठा लेते हैं. सिंह, धनु और कुंभ राशि के अलावा मेष राशि वालों का मामला वृषभ और कन्या से समभाव रहता है. मतलब पटरी जम भी सकती है और नहीं भी.
. मेष राशि का किस राशि के साथ विवाह योग बनने मे आती है मुश्किल
माना जाता है कि कर्क, वृश्चिक और मीन राशि वालों के साथ मेष राशि वालों की पटरी नहीं बैठती है. ये आपस में दोस्त तो हो सकते हैं लेकिन जीवनसाथी नहीं. और अगर इनकी शादी हो भी जाती है तो इन राशि के लोग एक-दूसरे से असंतुष्ट ही रहेंगे या एक दूसरे को धोखा देते रहेंगे. इसके अलावा इनका मिथुन राशि वालों से विवाद रहता है, जबकि मकर से भी पटरी नहीं बैठती है. यह राशि तुला राशि पर शासन करना चाहती है इसलिए तुला राशि के साथ भी इनका विवाह योग बनने में मुश्किलें आती हैं.

मेष राशि की शादी कब होगी, Mesh Rashi Ki Shadi Kab Hogi

शास्त्रों में राशिनुसार विवाह के योग और विवाह कब और किस उम्र में होगा बताया गया है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मेष राशि के जातकों का विवाह 25 से 26 साल की उम्र में हो जाता है. यदि इस उम्र में विवाह नहीं हुआ तो फिर 29 वर्ष और 32 वर्ष की उम्र में होता है. अगर इस उम्र में भी विवाह नहीं हुआ तो मेष राशि के लोगों को अपने राशि के इष्टदेव सूर्य देव या फिर भगवान विष्णु की विधिवत् पूजा अर्चना करनी चाहिए. इसके अलावा मेष राशि का स्‍वामी ग्रह मंगल है, इसलिए इस राशि के जातकों को मंगलवार का व्रत करना चाहिए. ऐसा करने से मेष राशि के जातकों का कल्याण होगा और विवाह में आ रही सभी बाधा दूर होगी.

मेष राशि शादी के उपाय, Mesh Rashi Shadi Ke Upay

हर माता-पिता अपने बेटे या बेटी के विवाह के लिए ज्योतिष के जानकारों से पूछते हैं कि मेरी या मेरे पुत्र या पुत्री की शादी कब होगी, बच्चों के विवाह में कोई विलंब तो नहीं और अगर है तो क्या करें? और जल्दी विवाह के उपाय क्या हैं? ऐसे कई सवाल सामाजिक जीवन में लोगों के सामने आते ही रहते हैं. इसलिए अगर मेष राशि के जातकों की शादी में देरी हो रही है तो उन्हें यहां दिए जा रहे कुछ सरल उपाय करने होंगे ताकि जल्द से जल्द उनकी शादी हो सके-
1. मेष राशि के युवक के विवाह में यदि अड़चन आ रही है तो उसे शुक्रवार को मावे से बनी बरफी (मिठाई) गाय को खिलानी चाहिए. ऐसा करने पर जल्द विवाह के संबंध में शुभ सूचना मिलेगी. मेष राशि वाली कन्याओं को शादी में अड़चन होने पर चावल की खीर गाय के दूध में बनाकर शिव शंकर भगवान को भोग लगाना चाहिए. ऐसा करने पर मनचाहा वर जरूर मिलेगा.
2. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार कुण्डली में मंगलिक दोष होने पर शादी में बाधा आती है. मंगलिक दोष के कारण आने वाली बाधा को दूर करने के लिए मंगलवार के दिन व्रत रखकर हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए. हनुमान जी को गेहूं के आटे एवं गुड़ से बने लड्डू का भोग लगाएं. हनुमान जी को सिन्दूर चढ़ाएं और रामायण के बालकांड का पाठ करें.
3. माना जाता है कि घर में जब किसी की शादी हो रही हो तब दूल्हे का सेहरा लेकर सिर पर रखने से कुंवारे लड़के की शादी जल्दी होती है. कन्या को दुल्हन से सिर टकराना चाहिए.
4. जिस कन्या की शादी में बार-बार बाधाएं आ रही हों उसे रात में तांबे के पात्र में जल भरकर विष्णु भगवान की मूर्ति या तस्वीर के सामने रखना चाहिए. सुबह ब्राह्ममुहूर्त में उस पात्र को लेकर खुले आकाश में चले जाएं. इस पात्र में रखे जल से मांग भरें और वापस पात्र को भगवान के सामने रख दें. इस बीच कोई टोके तो कुछ न बोलें. एक महीना तक ऐसा करने से विवाह के योग मजबूत हो जाते हैं.

मेष राशि शादी के उपाय, मेष राशि का विवाह योग कब है?, मेष राशि की शादी कब होगी, मेष राशि विवाह योग, मेष राशि का प्रेम, मेष राशि लव लाइफ, मेष राशि का प्यार कब मिलेगा?, Mesh Rashi Shadi Ke Upay, Mesh Rashi Ka Vivah Yog Kab Hai?, Mesh Rashi Vivah Yog, Mesh Rashi Ka Prem, Mesh Rashi Love Life, Mesh Rashi Ka Pyaar Kab Milega?, Mesh Rashi Ki Shadi Kab Hogi

आपके अमूल्य सुझाब ही mail.viralsinindia@gmail.com की सफलता की कुंजी है|

About the author

Admin

Leave a Comment