अजब-गजब

सिंह राशि के इष्ट देव कौन है, सिंह राशि के लिए रत्न, सिंह राशि के दोष का उपाय, सिंह राशि के लिए उपाय, Singh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Singh Rashi Ke Liye Ratna, Singh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Singh Rashi Ke Liye Upaay

Written by Admin


सिंह राशि के इष्ट देव कौन है, सिंह राशि के लिए रत्न, सिंह राशि के दोष का उपाय, सिंह राशि के लिए उपाय, Singh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Singh Rashi Ke Liye Ratna, Singh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Singh Rashi Ke Liye Upaay

सिंह राशि – परिचय

राशिचक्र की पांचवी राशि सिंह का स्वामी सूर्य है. ऐसे जातक काफी उदार होते हैं लेकिन इन्‍हें अपने जीवन में काफी संघर्ष करना पड़ता है. छोटी-छोटी चीजें भी इन्‍हें काफी मेहनत के बाद नसीब होती हैं. सिंह राशि के तहत पैदा हुए लोगों को सभी रिश्तों में भारी पड़ने की प्रबल आदत होती है. अगर आपकी कुंडली में सूर्य अशुभ है तो आपके पिता से संबंध खराब हो सकते हैं और इसके अलावा मान-सम्‍मान में भी कमी आ सकती है. ऐसे में सिंह राशि के जातकों को अपने इष्टदेव और राशिनुसार रत्न धारण करना चाहिए. ऐसा कर व अपने जीवन में सुख व सफलता पा सकते हैं. आइए जानते हैं सिंह राशि के इष्ट देव, रत्न व उपाय के बारे में विस्तार से-

सिंह राशि के इष्ट देव कौन है, Singh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai

ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार जन्म कुंडली में 12 राशिया होती है और लग्न में जो राशि होती है उस राशि का स्वामी व्यक्ति का स्वामी होता है उस स्वामी के प्रमुख देवता ही उस राशि के व्यक्ति के ईष्टदेव होते हैं. क्योंकि सिंह राशि का स्वामी सूर्य है इसलिए उनके इष्ट देव हनुमान जी और मां गायत्री हैं. इष्ट देव की पूजा करने से ये फायदा होता कि कुंडली में चाहे कितने भी ग्रह दोष क्यों न हों, अगर इष्ट देव प्रसन्न हैं तो यह सभी दोष व्यक्ति को अधिक परेशान नहीं करते. महाभारत काल में गीता के समय श्रीकृष्ण ने अर्जुन को ईष्ट की महत्ता का बखान करते हुए कहा था- सर्वधर्मान्परित्यज्य मामेकं शरणम् व्रज. अहं तवां सर्वेपापेभ्यो मोक्षयिष्यामि मा शुचः.. अर्थात्- अर्जुन सब का त्याग कर एकमात्र मेरी ही शरण में आ जाओ. मैं तुम्हारे सारे पापो से तुमको मुक्त कर दूंगा.
ईष्ट अपनी शरण में आये भक्त का पूरा उत्तरदायित्व अपने ऊपर ले लेते है और उसके समस्त पापो को क्षमा कर देते है. इसलिए इष्टदेव के ज्ञान से हम अपने किये गए पाप से दूर हो जाते है. अत: सिंह राशि के जातक अपनी राशि के इष्ट देव हनुमान जी और मां गायत्री की पूजा कर मन वांछित फल पा सकते हैं.
सिंह राशि के स्वामी सूर्य
सिंह राशि के इष्ट देव – हनुमान जी और मां गायत्री

सिंह राशि के लिए रत्न, Singh Rashi Ke Liye Ratna

व्यक्ति की कुंडली में निहित ग्रह दोष उसके जीवन में अनेक कठिनाइयों को लाकर खड़ा कर देते हैं. वैसे तो ग्रहों के बुरे प्रभाव से बचने व ग्रहों की शांति के लिए शास्त्रों में कई उपाय बताए गए हैं लेकिन इस समस्‍या का समत्‍कारिक हल रत्‍न द्वारा भी संभव है. जिस प्रकार से हर राशि का अलग-अलग स्‍वभाव होता है उसी प्रकार प्रत्‍येक रत्‍न का भी हर राशि पर भिन्‍न भिन्‍न प्रभाव पड़ता है. इसलिए व्यक्ति को अपनी राशि के अनुसार रत्न धारण करना चाहिए ताकि उन्हें जल्द इसका फल मिल सके और वे जीवन में आ रही अनेक परेशानियों से छुटकारा पा सके. आइए जानते हैं कि सिंह राशि के जातकों को कौन सा रत्न धारण करना चाहिए ताकि वे ग्रह दोषों को कम या दूर कर जीवन में सुख व समृद्धि पा सके.
सिंह राशि के लोग कौन सा रत्न धारण करें- सभी ग्रहों के राजा सूर्यदेव सिंह राशि के स्‍वामी माने जाते हैं और सूर्य का रंग लाल है, इसलिए सिंह राशि के तहत पैदा हुए लोगों को माणिक्‍य रत्न धारण करना चाहिए. माणिक्य सूर्य ग्रह का रत्न है इसलिए माणिक्य रत्न सूर्य को बल प्रदान करने के लिए पहना जाता है. माणिक्य रत्न धारण करने से सिंह राशि के लोगों को लाभ मिलता है.
माणिक्य किस हाथ में पहने, माणिक्य किस उंगली मे धारण करें, माणिक्य किस दिन पहनें – सिंह राेशि के जातकों को माणिक्य को दायें हाथ की कनिष्का उंगली में पहनना चाहिए. इसे आप रविवार के दिन सुबह स्नान करने के बाद धारण करें, शुभ रहेगा.

माणिक्य पहनने से लाभ और नुकसान
लाभ – अगर आपकी कुंडली में सूर्य अशुभ है तो आपके पिता से संबंध खराब हो सकते हैं और इसके अलावा मान-सम्‍मान में भी कमी आ सकती है. मेहनत करने के बाद भी फल नहीं मिलता है. कुंडली में सूर्य को मजबूत करने के लिए माणिक पहनना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि रत्न माणेक/रूबी लक्ष्यों को प्राप्त करने और जीवन में समृद्धि और सुख को आकर्षित करने की क्षमता को बढ़ाता है. माणिक्य धारण करने वाले सिंह राशि के जातक को बिज़नेस में लाभ, अच्छा स्वास्थ्य, ऊंचा मुकाम और प्रसिद्धि मिलती है.
नुकसान – किसी भी व्यक्ति को अपनी राशि के अनुसार ही माणिक्य रत्न पहनाना चाहिए ऐसा न करने पर आपको सिरदर्द हो सकता है, पारिवारिक समस्या बढ़ सकती है और अपयश भी झेलना पड़ सकता है. ज्योतिष के अनुसार, कन्या, तुला, मकर और कुंभ राशि वाले जातकों को माणिक्य नहीं पहनना चाहिए.
सिंह राशि के जातक कौन सा रत्न धारण न करें- सिंह राशि के लोग हीरा रत्न न पहनें. हीरा रत्न को पहनने से आपको नुकसान हो सकता है. वहीं, वृष, मिथुन, कन्या, तुला, मकर और कुंभ लग्न के लिए हीरा रत्न शुभ होता है.

सिंह राशि के दोष का उपाय, सिंह राशि के लिए उपाय

सिंह राशि के दोष का उपाय, सिंह राशि के लिए उपाय, Singh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Singh Rashi Ke Liye Upaay
सिंह राशि के जातकों को अपने कष्ट दूर करने व जीवन में सफलता पाने के लिए निम्न उपाय करने चाहिए, यह उपाय करने से अवश्य ही आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होगी.
1. सिंह राशि के लोगों को प्रतिदिन अपने इष्ट देव हनुमान जी और मां गायत्री की विधिवत पूजा अर्चना करनी चाहिए, ऐसा करने से अवश्य ही आपको उनका आशीर्वाद मिलेगा.
2. सिंह राशि के जातकों को हनुमान जी या मां गायत्री के लिए व्रत करना चाहिए तथा गरीबों को खाना खिलाना चाहिए, यदि व्रत रखना संभव न हो सके तो उनकी पूजा अवश्य करें.
3. जीवन में धन की बेहद आवश्यकता होती है पर जब समय खराब चल रहा हो तो मेहनत करने के बावजूद भी उसका वास्तविक फल नहीं मिलता. ऐसी स्थिति से बचने व धनलाभ के लिए सिंह राशि के जातक काले कुत्ते को तेल चुपड़ी हुई रोटी खिलाएं.
4. सिंह राशि के जातक संतान से जुड़ी परेशानी दूर करने व संतान सुख पाने के लिए मंदिर में जाकर देवी-देवताओं की पोशाक दान करें. इसके अलावा असहाय और जरूरतमंदों को भोजन कराएं, यह उपाय करने से अवश्य ही आपकी यह समस्या दूर हो जाएगी.
5. जीवन में स्थिरता, प्रगति व तरक्की पाने के लिए सिंह राशि के जातक सोने का सूर्य बनवाकर गले में धारण करें. इसके अलावा छह रविवार तक निरंतर दोपहर के समय एक निश्चित आक के पौधे को सींचे. अवश्य ही लाभ मिलेगा.
6. दांपत्य जीवन में चल रहे तनाव को दूर करने के लिए सिंह राशि के लोग घर की छत पर शनिवार को घोड़े की नाल लगाएं. यदि घर में व्यर्थ लोहा पड़ा है तो उसे तत्काल घर से दूर करें. ऐसा करने पर धीरे-धीरे दांपत्य जीवन में सामान्य रिश्ते बनेंगे और फिर बाद में साथी और आपके बीच का प्रेम प्रगाढ़ होगा.
7. सिंह राशि के लोग रोजाना जल्दी सुबह उठकर सूर्य की उपासना करें और फिर सूर्योदय के समय तांबे के पात्र से सूर्य को जल चढ़ाएं. रविवार के दिन आदित्य हृय स्तोत्र का पाठ करें. ऐसा करने से आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होगी.

सिंह राशि के इष्ट देव कौन है, सिंह राशि के लिए रत्न, सिंह राशि के दोष का उपाय, सिंह राशि के लिए उपाय, Singh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Singh Rashi Ke Liye Ratna, Singh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Singh Rashi Ke Liye Upaay

आपके अमूल्य सुझाब ही mail.viralsinindia@gmail.com की सफलता की कुंजी है|

About the author

Admin

Leave a Comment