ब्यूटी

कन्या राशि के इष्ट देव कौन है, कन्या राशि के लिए रत्न, कन्या राशि के दोष का उपाय, कन्या राशि के लिए उपाय, Kanya Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Kanya Rashi Ke Liye Ratna, Kanya Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Kanya Rashi Ke Liye Upaay

Written by Admin


कन्या राशि के इष्ट देव कौन है, कन्या राशि के लिए रत्न, कन्या राशि के दोष का उपाय, कन्या राशि के लिए उपाय, Kanya Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Kanya Rashi Ke Liye Ratna, Kanya Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Kanya Rashi Ke Liye Upaay

कन्या राशि – परिचय

राशि चक्र की छठवीं राशि कन्या के स्वामी बुध देव है. कन्या राशि में जन्म लेने वाले लोग बहुत सहयोगी और शानदार योजनाकार होते हैं. ऐसे जातक जीवन में आई कठिनाइयों से निपटना तो जानते हैं पर काफी भावुक प्रवृत्ति के होने के कारण जल्दी सफल नहीं होते. ये लोग दूसरों के प्रति जल्‍दी आकर्षित हो जाते हैं. इनका चंचल स्‍वभाव ही इनके जीवन की सबसे बड़ी मुसीबत बन जाता है. अगर कन्‍या राशि के जातक अपने इष्टदेव की पूजा करें और अपनी राशिनुसार रत्न धारण करें तो वे अपने जीवन में चल रही तमाम परेशानियों से जल्द ही छुटकारा पा सकते हैं. यहां जानिए कन्या राशि के इष्ट देव, रत्न और उपाय के बारे में विस्तृत जानकारी –

कन्या राशि के इष्ट देव कौन है, Kanya Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai

कन्या राशि के जातकों को मनोकामना पूर्ति के लिए इष्ट देव की पूजा करनी चाहिए. मान्यताओं के अनुसार अगर कोई व्यक्ति अपने इष्ट देव की पूजा करता है तो उसकी कुंडली में चाहे कितने भी ग्रह दोष क्यों न हों, उन्हें अधिक परेशान नहीं करते. लेकिन इष्ट देव कौन हैं? इष्ट देव का अर्थ होता है अपनी राशि के पसंद के देवता, जिसका निर्धारण पूर्व जन्म में किए गए कार्यों के आधार पर होता है. जन्म कुंडली और नाम की राशि से भी व्यक्ति के इष्ट देव का पता लगाया जाता है. जन्म कुंडली में जिस भाव में चंद्रमा होता है व्यक्ति की वही राशि होती है. राशि के अनुसार व्यक्ति के इष्ट देव का पता लगाया जा सकता है. कन्या (Virgo) राशि का स्वामी ग्रह बुध है इसलिए उनके इष्ट देव गणेशजी और विष्णुजी हैं. अत: कन्या राशि के जातकों को गणेशजी या विष्णुजी को अपना इष्ट देव मानकर विधिवत् पूजा अर्चना करनी चाहिए.
कन्या राशि के स्वामी – बुध ग्रह
कन्या राशि के इष्ट देव – गणेशजी और विष्णुजी

कन्या राशि के लिए रत्न, Kanya Rashi Ke Liye Ratna

ज्योतिषशास्त्र में रत्नों का विशेष महत्व है. माना जाता है कि रत्नों में इतनी शक्ति होती है कि वह व्यक्ति का भाग्योदय कर सकते हैं. रत्नों का असर शरीर के साथ ही मन और कार्यों पर भी पड़ता है. रत्नों का लाभ मिलने में थोड़ा समय लगता है लेकिन गलत रत्न पहनने का नुकसान जल्दी होने लगता है. यानी कि अगर कोई व्यक्ति राशिनुसार सही रत्न धारण करें, तो वह अपने भविष्य को काफी हद तक सुधार सकता है. मगर अगर किसी ने गलत रत्न पहन लिया तो उसे भारी नुकसान भी उठाना पड़ सकता है. इसलिए जरूरी है कि आप अपनी राशि के अनुसार सही रत्न पहनें. यहां जानिए कन्या राशि वाले कौन सा रत्न कब और किस दिन पहनें जिससे उनका भाग्योदय हो सके-
कन्या राशि के लोग कौन सा रत्न धारण करें- कन्या राशि के स्वामी बुध देव है. इनका रंग हरा है इसलिए कन्या राशि में जन्म लेने वाले लोग हरा पन्ना पहने. हरा पन्ना इस राशि के लोगों के लिए बेहद शुभ होता है. पन्ना रत्न बुध ग्रह को बल प्रदान करने के लिए पहना जाता है. पन्ना मूल्यवान रत्नों में से एक है. जब आप पन्ना रत्न खरीदने जाते हैं, तो पन्ना रत्न की चमक, वजन, पारदर्शिता आदि को देखते हुए इसका मूल्य तय किया जाता है.
पन्ना किस हाथ में पहने, पन्ना किस उंगली मे धारण करें, पन्ना किस दिन पहनें – कन्या राशि के जातक बुधवार के दिन सोने की अंगूठी में 3 या 6 रत्ती का पन्ना जड़वाकर कनिष्ठा अंगुली में पहनें. शुभ फल की प्राप्ति के लिए आपको यह रत्न बुधवार के दिन सुबह स्ऩान करने के बाद धारण करना चाहिए.

पन्ना पहनने से लाभ और नुकसान
लाभ – पन्ना पत्थर कन्या राशि के जातकों को अधिक व्यावहारिक और विश्लेषणात्मक बनने में मदद करता है. पन्ना रत्न प्रेरणा और धीरज का एक तत्व माना जा सकता है क्योंकि यह रक्षा और प्रोत्साहित करने में मददगार होता है. कन्या राशि वाले लोग यदि पन्ना रत्न धारण करते हैं, तो इससे इन्हें आत्मविश्‍वास, धन-वैभव और अच्छा स्वास्थ्य मिलता है. पन्ना धारण करने से स्मरण शक्ति बढ़ती है. नौकरी और व्यापार में उन्नति के लिए भी कन्या राशि के जातकों को पन्ना धारण करने की सलाह दी जाती है.
नुकसान – पन्ना रत्न को अपनी राशिनुसार ही धारण करना चाहिए, अगर आपको रत्नों की सही जानकारी नहीं है, तो गलत रत्न कभी न पहनें, इसकी वजह से आपको जीवन में परेशानियां उठानी पड़ सकती है. लाल किताब के अनुसार बुध तीसरे या 12वें हो तो पन्ना नहीं पहनना चाहिए. ज्योतिष के अनुसार 6, 8, 12 का बुध स्वामी हो तो पन्ना पहनने से अचानक नुकसान हो सकता है, यदि बुध की महादशा चल रही है और बुध 8वें या 12वें भाव में बैठा है तो भी पन्ना धारण करने से समस्या उत्पन्न हो सकती है. इसलिए ज्योतिष की सलाह अनुसार ही आप कोई भी रत्न धारण करें.

कन्या राशि के दोष का उपाय, कन्या राशि के लिए उपाय

कन्या राशि के दोष का उपाय, कन्या राशि के लिए उपाय, Kanya Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Kanya Rashi Ke Liye Upaay
कन्या राशि के जातकों को अपने कष्ट दूर करने व जीवन में सफलता पाने के लिए निम्न उपाय करने चाहिए, यह उपाय करने से अवश्य ही आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होगी.
1. कन्या राशि के लोगों को प्रतिदिन अपने इष्ट देव गणेश जी और विष्णु जी की विधिवत पूजा अर्चना करनी चाहिए, ऐसा करने से अवश्य ही आपको उनका आशीर्वाद मिलेगा.
2. कन्या राशि के जातकों को बुधवार का व्रत करना चाहिए तथा गरीबों को खाना खिलाना चाहिए, यदि व्रत रखना संभव न हो सके तो इस दिन भगवान गणेश की पूजा अवश्य करें.
3. मेहनत करने के बावजूद भी सफलता नहीं मिल रही है तो कार्य क्षेत्र में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए कन्या राशि के जातक गुरुवार के दिन पीले चंदन का तिलक लगाए. ऐसा करने से आपको अच्छे फल प्राप्त होंगे.
4. मनोकामना पूर्ति के लिए कन्या राशि के जातक सोमवार के दिन गाय का दूध भगवान शिव को अवश्य चढ़ाएं. इसके अलावा भजपत्र पर गोरोचन से अनार की कलम द्वारा अपनी मनोकामना लिखकर पूजा घर में रखन दें जब मनोकामना पूर्ण हो जाए तो उसे बहते हुए पानी में प्रवाहित कर दें.
5. यदि कन्या राशि के लोग किसी कार्य में स्थिरता चाहते हैं तो गले में तुलसी की माला धारण करें.

6. किसी शारीरिक पीड़ा या रोग से ग्रसित हैं तो भोजपत्र पर लाल चंदन से अपने शत्रु का नाम लिखकर उसे शहद में डूबो दें. बाद में उसे बहते जल में विसर्जित कर दें. इस उपाय को करने से कन्या राशि के जातकों को जल्द ही स्वास्थ्य लाभ मिलेगा.
7. आर्थिक जीवन में आ रही परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए कन्या राशि के जातक पूजा में बैठने के लिए रेशमी वस्त्र का आसन प्रयोग करें. पूजा घर की दीवार का रंग सफेद या हल्के रंग में हो तो भी यह स्थिति आपके लिए अनुकूल साबित होगी.
8. जीवन में आर्थिक स्थिरता बनी रहे इसके लिए कन्या राशि के जातक कमलगट्टे की माला लेकर लक्ष्मी माता के मंदिर में चढ़ाएं. यह उपाय शुक्रवार के दिन करें. ऐसा करने से आपकी आर्थिक परेशानियां दूर हो जाएंगी.
9. कर्ज मुक्ति के लिए कन्या राशि के लोग धनतेरस से लेकर दीवाली तक कौवे को मीठे चावल खिलाएं. ऐसा करने से आपको निश्चित ही लाभ मिलेगा.
10. बुध ग्रह का आशीर्वाद पाने के लिए कन्या राशि के जातक गौ माता को हरा चारा अथवा हरी सब्ज़ियां खिलाएं और उनकी पीठ पर 3 बार हाथ फेरें. ऐसा करने से आपको शिक्षा क्षेत्र में कामयाबी मिलेगी.

कन्या राशि के इष्ट देव कौन है, कन्या राशि के लिए रत्न, कन्या राशि के दोष का उपाय, कन्या राशि के लिए उपाय, Kanya Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Kanya Rashi Ke Liye Ratna, Kanya Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Kanya Rashi Ke Liye Upaay

आपके अमूल्य सुझाब ही mail.viralsinindia@gmail.com की सफलता की कुंजी है|

About the author

Admin

Leave a Comment