लाइफस्टाइल

अहंकारी पति से कैसे निपटे, खुद को ही सब-कुछ मानने वाले पति, कैसे अहंकारी पति से निपटने के लिए, पति से नफरत, जब पति आप पर ध्यान नहीं देता कि क्या करना है, पति पत्नी के रिश्ते की समस्याओं, गुस्सैल पत्नी के साथ कैसे निभाएं, Jab Pati Ignore Kare to Kya Kare, Jab Pati Pyar Na Kare, Ahankari Pati Se Kaise Nipte

Written by Admin


अहंकारी पति से कैसे निपटे, खुद को ही सब-कुछ मानने वाले पति, कैसे अहंकारी पति से निपटने के लिए, पति से नफरत, जब पति आप पर ध्यान नहीं देता कि क्या करना है, पति पत्नी के रिश्ते की समस्याओं, गुस्सैल पत्नी के साथ कैसे निभाएं, Jab Pati Ignore Kare to Kya Kare, Jab Pati Pyar Na Kare, Ahankari Pati Se Kaise Nipte

कैसे अहंकारी पति से निपटने के लिए 
शादी के बाद कई महिलाओं की ये शिकायत होती है कि उनके पति उन्हें वो सम्मान नहीं देते जो उन्हें मिलना चाहिए. रिश्ता खट्ठे-मीठे पलों का मिश्रण है. पति-पत्नी के रिश्ते में अगर केवल खटास ही रह जाए तो फिर उस रिश्ते का कोई मतलब नहीं रह जाता. शादी के रिश्ते को सहेजने के लिए पति और पत्नी दोनों को ही बराबर कोशिशें करनी चाहिए. अगर एक भी अपनी जिम्मेदारी ना निभाएं तो फिर रिश्ते की डोर कमजोर पड़ जाती है. आइए जानते हैं पुरुषों की उन आदतों के बारे में जिनकी वजह से वे अच्छे पति नहीं बन पाते हैं.

नार्सिसिस्टिक (Narcissistic) या खुद को ही सब-कुछ मानने वाले लोग, ये वो लोग होते हैं, जिन्हें सिर्फ अपनी ही फिक्र रहती है, ये खुद की प्रतिष्ठा के अहंकार में रहते हैं, इन्हें हमेशा अटेन्शन पाने और लोगों की तारीफ के पात्र बनने का शौक रहता है और इन्हें किसी के भी प्रति कोई संवेदना ही नहीं रहती। आमतौर पर इन लोगों का आत्म-सम्मान बहुत कमजोर होता है और इनका आलोचनात्मक रवैया होता है। अगर आप ऐसे ही किसी नार्सिसिस्टिक इंसान के साथ शादी के बंधन में बंध चुकी हैं, तो उम्मीद है, कि ये आर्टिकल आपके पति के बर्ताव को सुलझाने में या उसे मैनेज करने में आपकी मदद कर सकेगा।

कब रिश्ता बिगड़ने की कगार पर पहुँच गया है
पता करें, कि आपका पति कहीं सेल्फ़िश तो नहीं: नार्सिसिस्टिक लोग आमतौर पर बहुत ज्यादा सेल्फ-सेंटर्ड होते हैं, जो सिर्फ खुद के ही बारे में सोचते रहते हैं। इनमें बहुत ज्यादा ईगो होता है और इनमें लोगों का ध्यान और तारीफ पाने की लालच रहती है। ये बहुत ज्यादा खुद में ही डूबे रहते हैं और हमेशा सबसे अच्छा या सफल बनने के तरीके की तलाश में रहते हैं। इसी की वजह से, आपका नार्सिसिस्टिक पति कभी भी आप से आपके बराबर प्यार नहीं कर सकेगा। वो उसकी जरूरतों और रुचियों के बारे में ज्यादा सोचेगा, जबकि आपके बारे में उसे कोई परवाह ही नहीं रहेगी।

पता करें, कि आपका पति कहीं बहुत ज्यादा जैलस (Jealous) तो नहीं: नार्सिसिस्टिक लोग बस आगे बढ़ते रहने और प्रशंसा पाने के लिए इतने जुनूनी होते हैं, कि उन्हें दूसरे लोगों की उपलब्धियों से जलन होती है। इसकी वजह से वो पजेसिव (Possessive) या शायद अब्यूसिव (Abusive) बर्ताव भी करना शुरू कर सकता है।

आपका पति कहीं अपनी चलाने वाला (Manipulative) या कंट्रोलिंग तो नहीं: नार्सिसिस्टिक पति अपनी पत्नी को, उसके फ्रेंड्स और फैमिली से अलग कर देता है, जिसकी वजह से वो अपने पति के ऊपर निर्भर हो जाती है, ऐसा करके उसे काबू में करने की कोशिश करता है। साथ ही ऐसे लोग अपनी पत्नी की ओर बिना कोई लगाव दिखाए या ध्यान दिए बिना भी अपनी पत्नी पर काबू पाने या उस पर अपनी चलाने की कोशिश कर सकते हैं।

  1. कुछ नार्सिसिस्टिक पति वर्बल और इमोशनल अब्यूस का भी सहारा लेते हैं। ये आपको काबू करने के लिए, आपको रुला या बुरा महसूस करा सकते हैं।
  2. साथ ही, ये अपनी बीबी के ऊपर काबू पाने और उसे अपनी बातें मानने को मजबूर करने के लिए, गुस्से या नखरे का भी सहारा ले सकते हैं।

आपका पति झूठ बोलता है: नार्सिसिस्टिक लोग अपने स्पाउज (पति/पत्नी) के ऊपर अपनी चलाने के लिए झूठ का इस्तेमाल करते हैं। आपकी आधी सच्चाई बताते हैं या फिर सच्चाई को बहुत गलत तरीके से बताते हैं, ताकि उन्हें किसी भी बात की ज़िम्मेदारी ही न उठाना पड़े। कई बार, सारा दोष सीधे जाकर स्पाउज के ऊपर चला जाता है।ये स्पाउज के लिए ठीक नहीं होता, क्योंकि आखिर में पूरा दोष, ज़िम्मेदारी और पछतावा उनके ऊपर आ जाता है।

पति का सामना करना (Dealing With Your Husband)
अपने पति से बात करें: क्योंकि आप शादीशुदा हैं, इसलिए आपको सामने उठने वाले मुद्दों के ऊपर खुलकर और ईमानदारी के साथ में बात करते आना चाहिए। उससे बात करते वक़्त, अपने मन को शांत रखने की कोशिश करें। एक आश्वस्त स्वर (Convincing Tone) में बात करने की पुष्टि करें, और उसे विरोधी आवाज उठाए बिना, उसे समझाएँ, कि आपका रिश्ता जिस दिशा से चला जा रहा है, आप उसे लेकर नाखुश हैं। दोष लगाने वाले स्वरों और शब्दों का इस्तेमाल करने से बचें; नार्सिसिस्टिक लोग आलोचना का सामना नहीं कर पाते हैं। How to Deal With a Narcissistic Husband अहंकारी पति से निपटने के लिए

समझने के लिए उससे सवाल पूछें: सवाल पूछना एक ऐसी टेक्निक होती है, जिससे क्योंकि वो अपने ऊपर होने वाली बातचीत पर ध्यान दे रहा होगा, उसे ऐसा लगेगा जैसे वो खुश होगा।

  1. जब वो बात करे, तब उसकी बातों को दोहराना, उसे ये दिखाने का तरीका है, कि आप उसे सुन रही हैं। ये उसे सेंटर में बनाए रखने में भी मदद करेगा, जो आपको बाद में आपकी चिंता को व्यक्त करने में मदद कर सकता है।
  2. वो जो कहता है, उसकी नकल करें। अगर आपका पति कहता है, “मुझे ऐसा लगता है, जैसे मैं चाहे जो भी कर लूँ, कोई उसकी कभी तारीफ नहीं करने वाला है,” इसके लिए ऐसे रिस्पोंड करें, “मुझे मालूम है, ऐसे में कैसा महसूस होता है। ये सच में बहुत मुश्किल है और इससे दिल भी दुखता है।”

तुम की जगह पर हम का इस्तेमाल करें: जब भी उसकी गलतियों के बारे में बात करें या किसी मैरिज काउंसलर को सजेस्ट करें, तब हमेशा “तुम” की बजाय “हम” का इस्तेमाल करें। इससे उसे ऐसा अहसास होगा, जैसे ये सिर्फ उसका अकेले का दोष नहीं, बल्कि एक-दूसरे की ज़िम्मेदारी और एक-दूसरे का कसूर है, जिसकी वजह से नार्सिसिस्टिक पर नेगेटिव रिएक्शन आएगा।
तुमने सेल्फ़िश होकर मुझे बहुत दुख पहुंचाया” बोलने के बजाय, कहें, “कभी-कभी हम दोनों एक-दूसरे के बारे में सोचने के बजाय, खुद के बारे में ज्यादा सोचकर, एक-दूसरे का दिल दुखा देते हैं।”

एक दूसरे को ताने न मारें:- पति पत्नी के रिश्ते में झगडे की शुरुआत का कारण होता हैं, की वो एक दूसरे को किसी न किसी बात को लेकर ताने मारने लगते हैं| ताने कब बहस का रूप ले लेते हैं पता ही नहीं चलता हैं| जैसे की कई बार पति की आदत होती हैं पत्नी के मायके वालो को लेकर कुछ कहना या पत्नी का पति के त्रेहन सहन को लेकर ताने मरना| ऐसी ही कुछ बातें पति पत्नी में झगडे का कारण बन जाती हैं, और यसदि इस आदत में बदलाव नहीं किया जाता हैं, तो रोजाना ही लड़ाई जैस परेशानी हो जाती हैं|

अपने आप को ज्यादा समझदार दिखाने की कोशिश न करें:- कई बार घर में कुछ ऐसे मसले होते हैं, जहा पति पत्नी दोनों को साथ में खड़े होना चाहिए| परंतु कई लोगो की आदत होती हैं| उनका कहना होता हैं की वो समझदार हैं उन्ही की बातें सही हैं| और वो दूसरे को गलत दिखाने किम कोशिश करते हैं| ऐसे करने से समस्या का हल तो नहीं मिलता हैं, परंतु झगड़ा जरूर शुरू हो जाता हैं| इसीलिए पति पत्नी को मिलकर हर चीज का हल निकालना चाहिए| न की एक दूसरे को गलत साबित करने की कोशिश करनी चाहिए|

बार बार एक ही बात को न दोहराएं:- ज्यादातर पत्नियों की ये आदत होती हैं, की वो हर काम को बार बार दोहराती हैं| जब तक की वो हो न जाएँ| ऐसा करने से पति लोग बहुत परेशान हो जाते हैं| कई बार कुछ हो जाता हैं, जिसके कारण वो काम नहीं हो पाता हैं| तो ऐसे में उस बात को दोहरा कर पति को इर्रिटेट नहीं करना चाहिए, क्योंकि जब आपको पता हैं की वो काम उन्ही को करना हैं, तो जैसे ही उन्हें समय मिलेगा वो कर देंगे| इसीलिए ऐसा नहीं करना चाहिए|

छोटी छोटी बातों को ख़त्म करने का प्रयास करें:- कई महिलाओ के साथ पुरुषो की भी आदत होती हैं की वो राइ का पहाड़ बना देते हैं| छोटी छोटी बातों को खींच कर बड़ा कर देते हैं| ऐसा करने से बात ख़त्म नहीं होती हैं, बल्कि बात बढ़ ही जाती हैं| इसीलिए यदि कोई बात हो जाएँ तो उसे ख़त्म करने की कोशिश करनी चाहिए| न की उसे बढ़ावा देना चाहिए| ऐसा करने से आपकी समझदारी दीखती हैं| और यदि आप बात को बढ़ावा देते हैं तो वो आपकी बेवकूफी को बढ़ावा देता हैं|

एक दूसरे को समझने की कोशिश करें:-पति पत्नी में झगडे का कारण होता हैं की वो एक दूसरे को समझने की कोशिश नहीं करते हैं, बल्कि बस अपने आप को समझाने में लगे रहते हैं| यदि ऐसा होता हैं तो जाहिर सी बात हैं झगड़ा तो होता ही हैं| यदि आप चाहते हैं की आपके बीच में झगड़ा न हो, आप एक दूसरे के साथ प्यार से रहें तो इसके लिए आपको एक दूसरे को समझना चाहिए, एक दूसरे की सोच का आदर करना चाहिए|

क्रोध न करें:-गुस्से के कारण किसी भी रिश्ते को ख़राब होने में बिलकुल भी समय नहीं लगता हैं| यदि आप चाहते हैं की आप अपने रिश्ते में झगडे को न आने दें, तो इसके लिए कभी क्रोध को अपने बीच न आने दें, क्योंकि थोड़ा सा गुस्सा भी कई बार बहुत बड़े काम कर देता हैं| जिसके कारण आपको बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं| इसीलिए अपने रिश्ते में प्यार के लिए स्थान बनाएं न की नफरत के लिए कोई स्थान रखें|

बीती बातों को न कुरेदें:-कई लोग होते हैं जो अच्छी बातों के बीच भी बीती बातों का ध्यान करने लग जाते हैं| और कई बार वो बातें रिश्ते में खट्टास का काम करती हैं| जिसके कारण गुस्सा आने लगता हैं, और साथ ही फिर उन बातों को खींचने से झगडे की शुरुआत हो जाती हैं| ऐसा नहीं करना चाहिए, बल्कि अपनी नई यादों को बनाना चाहिए| न की बीती बातों को याद करके, लड़ाई झगड़े करने चाहिए|

एक दूसरे की भावनाओ की कदर करें:- रिश्ते में झगडे करने से अच्छा हैं की आप दोनों एक दूसरे की भावनाओ की कदर करें| एक दूसरे की सोच का सम्मान करें, प्यार से रहें, एक दूसरे की इच्छाओ का आदर करें, ऐसा करने से रिश्ते में मीठी यादें आती हैं| न की कड़वाहट आती हैं| इसीलिए आपको अपने रिश्ते में झगडे को छोड़कर एक दूसरे की भावनाओ की इज्जत करके अपने रिश्ते की नींव को मजबूत करना चाहिए| ताकि आपका रिश्ता समय के साथ और भी गहरा होता जाएँ|

नीचा दिखाने का प्रयत्न न करें:-पति पत्नी का रिश्ता हमेशा बराबरी का होना चाहिए| इसमें कोई भी बड़ा या कोई छोटा नहीं होना चाहिए| जिस रिश्ते में पति पत्नी एक दूसरे को छोटा दिखाने का प्रयत्न करते हैं| ऐसे रिश्ते की उम्र नहीं होती हैं, और यदि वो लोग साथ रहते भी हैं तो वो रिश्ता सिर्फ नाम का ही रह जाता हैं| इसीलिए किसी को नीचा दिखाकर रिश्ता खराब करने से अच्छा हैं की आप बराबरी का साथ अपने जीवन में एक दूसरे को दें| ताकि उस रिश्ते की उम्र कभी खत्म ही न हो|

पति पत्नी के झगडे से बचने के अन्य उपाय:-अहंकार को कभी अपने जीवन में स्थान न दें|

  1. एक दूसरे के चरित्र पर कभी ऊँगली न उठायें|
  2. कभी भी एक दूसरे के प्रति हीं भावना को न पनपने दें|
  3. शक को अपने रिश्ते में स्थान न दें|
  4. प्यार से अपने रिश्ते की नींव को मजबूत करें|
  5. विश्वास को कभी अपने रिश्ते कम न होने दें|
  6. एक दूसरे के लिए हमेशा तैयार रहें|
  7. झगडे को बढ़ाने की कोशिश न करें|

हर इंसान रिश्ते निभाने के दौरान एक दूसरों से हद से ज्यादा उम्मीद रखने लगता है. हर इंसान के अंदर स्वार्थ स्वाभाविक रूप से मौजूद होता है. किसी से एक हद तक उम्मीद रखना गलत नहीं है. मगर ये भी समझना जरूरी है कि हर इंसान के अंदर अगर कुछ प्रतिभाएं हैं तो दूसरी तरफ कुछ खामियां भी हैं. कोई भी इंसान आपको हर तरह से संतुष्ट नहीं कर सकता. आपको ये समझने की जरूरत है कि आप ज्यादा आकांक्षाएं रखने की बजाए अपने लाइफ पार्टनर से प्यार और आदर का भाव रखें.

पति-पत्नी समस्या समाधान मंत्र
अगर आपके और आपके जीवन साथी के बीच रिश्ता सही नहीं है। इसे दूर करने के लिए हम आपको एक शिव जी का मन्त्र बतायेंगे जिसे जपने से आप दोनों के बीच की दूरियां भी कम हो जाएगी और रिश्ते में मिठास भी बनी रहेगी .
हम आपको भोलेनाथ जी का वो मन्त्र बताने जा रहे है जिसे सुनकर आप भी अपने किसी ख़ास से लड़ाई ख़त्म या यूँ कहिये बंद कर सकते हैं| इसके लिए सबसे पहले स्नान करके शिव जी के मंदिर जाएं और वहां शिवलिंग पर जल चढ़ाएं| और शिव जी के इस मंत्र का जाप करे ऐसा करने से आप के रिश्तों में मजबूती आएगी और झगड़ो से दूर रहेगे| ये मंत्र कुछ इस प्रकार है-
ऊं नमः समभवाय च मयो भवाय च नमः।
शंकराय च मयस्कराय च नमः शिवाय च शिवतराय च।।
अक्ष्यो नौ मधुसंकाशे अनीक नौ समंजनम् ।
अंतः कृणुष्व मां ह्रदि मन इन्नो सहासति । ।

और आर्टिकल पढ़ने के लिए निम्नलिखित लिंक्स पर क्लिक करें –

  1. नाराज पत्नी को कैसे मनाएं, Naraj Patni Ko Kaise Manye, रूठी पत्नी को कैसे मनाए, पत्नी को कैसे खुश रखना चाहिए, रूठी हुई पत्नी को मनाने के उपाय.
  2. पति-पत्नी में कलह निवारण हेतु, पति-पत्नी के रिश्ते की समस्याओं, Pati Patni Mein Kalah Nivaran Hetu Aasan Upay, Pati Patni Ke Bich Pyar Badhane Ke Totke.
  3. ओरियो बिस्किट का केक, ओरियो बिस्कुट का केक, ओरियो बिस्कुट केक रेसिपी, ओरियो बिस्किट केक, बिस्कुट केक इन कुकर, ओरियो बिस्कुट, Oreo Biscuit Cake in Hindi.
  4. पत्नी परेशान करे तो क्या करे, बीवी से परेशान पति क्या करे, पत्नी परेशान करे तो क्या करे, पत्नी सताए तो क्या करे, पत्नी से परेशान पति, Biwi Se Pareshan Pati Kya Kare.
  5. घर में ब्लीच करने का तरीका, Bleach Kaise Karte Hain, Bleach Karne Ka Tarika, घर पर ब्‍लीच कैसे बनाएं, Bleach Kaise Karen, सबसे अच्छा ब्लीच कौन सा है.
  6. बेसन हल्दी फैस पैक, बेसन-हल्दी निखारे त्वचा की रंगत, बेसन हल्दी के फायदें, बेसन हल्दी फैस पैक, बेसन फेस पैक बनाने की विधि, फेस पैक लगाने के टिप्स.
  7. एलोवेरा बालों में कैसे लगाएं, एलोवेरा जेल को बालों में कैसे लगाएं, एलोवेरा को बालों में कैसे लगाएं, एलोवेरा जेल बालों में कैसे लगाएं, पतंजलि एलो वेरा जेल फॉर हेयर.
  8. बालों में मेहंदी लगाने के फायदे, बालों में मेहंदी लगाने के नुकसान, Balo Me Mehndi Lagane Ke Fayde, Balo Me Mehndi Lagane Ke Nuksan.
  9. बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल.
  10. शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग.
  11. योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन.
  12. प्यार का सही अर्थ क्या होता है, Pyar Kya Hota Hai, Pyar Kya Hai, प्यार क्या होता है, प्यार क्या है, Pyaar Kya Hai, Pyar Ka Matlab Kya Hota Hai, Love Kya Hota Hai.
  13. ज्यादा नींद आने की वजह, Jyada Nind Kyon Aati Hai, ज्यादा नींद आना के कारण, ज्यादा नींद आना, शरीर में सुस्ती, शरीर में थकावट.
  14. विवेकानंद की जीवनी, स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय, स्वामी विवेकानंद की बायोग्राफी, Swami Vivekananda In Hindi, Swami Vivekananda Ki Jivani.
  15. मोटिवेशनल कोट्स इन हिंदी फॉर लाइफ, Motivational Quotes in Hindi for Life, ब्यूटीफुल गुड मॉर्निंग कोट्स, लाइफ कोट्स, लेटेस्ट गुड मॉर्निंग कोट्स, Beautiful Morning Quotes.
  16. Love Quotes in Hindi, रोमांटिक लव कोट्स इन हिंदी, Sad Love Quotes in Hindi, डीप इमोशनल लव कोट्स in Hindi, Heart Touching Love Quotes in Hindi, लव कोट्स इन हिंदी.
  17. नमक का दरोगा, Namak Ka Daroga, नमक का दारोग़ा हिंदी स्टोरी, हिंदी कहानी नमक का दारोग़ा, Namak Ka Daroga Hindi Story, Hindi Kahani Namak Ka Daroga
  18. कबीरदास के प्रसिध्द दोहे, कबीर के दोहे मीठी वाणी, Kabir Dohe Lyrics, Kabir Ke Dohe Lyrics, Kabir Ke Dohe Lyrics In Hindi
  19. बच्चों के नये नाम की लिस्ट, बेबी नाम लिस्ट, बच्चों के नाम की लिस्ट, हिंदी नाम लिस्ट, बच्चों के प्रभावशाली नाम, हिन्दू बेबी नाम, हिन्दू नाम लिस्ट, नई लेटेस्ट नाम.
  20. अयांश नाम का अर्थ, अयांश का हिंदी अर्थ, अयंश, अयांश नाम मीनिंग, अयांश नाम का मतलब, अयांश का अर्थ धर्म और राशि, अयांश मीनिंग इन हिंदी, Ayansh Ka Arth.
  21. आरव नाम का अर्थ, आरव का हिंदी अर्थ, आरव नाम मीनिंग, आरव नाम का मतलब, आरव का अर्थ धर्म और राशि, Aarav Ka Arth, Aarav Ka Matlab, Aarav Meaning.

आपके अमूल्य सुझाब ही mail.viralsinindia@gmail.com की सफलता की कुंजी है|

About the author

Admin

Leave a Comment